crossorigin="anonymous">

सिद्धार्थ शुक्ला से जुड़े कुछ अनसुने किस्से, जो बहुत कम ही लोग जानते हैं

सिद्धार्थ शुक्ला को इस दुनिया से अलविदा कहे काफी समय बीत गया चुका है. लेकिन अभी भी उनकी कमी उनके चाहने वालों को सता रही है. बता दें 2 सितंबर को सिद्धार्थ शुक्ला की हार्ट अटैक की वजह से मौत हुई थी जिसकी वजह से उन्हें मुंबई के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था लेकिन डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था.

आज सिद्धार्थ भले ही इस दुनिया में नहीं हों, लेकिन अब भी उनके चाहने वाले उनके बारे में ज्यादा से ज्यादा चीजें जानने में काफी उत्सुकता रखते हैं. तो चलिए आज हम आपको सिद्धार्थ से जुड़े कुछ अनसुने किस्से बताने वाले हैं.

1. 12 दिसंबर 1980 को मुंबई में जन्मे सिद्धार्थ शुक्ला के पिता अशोक शुक्ला भारतीय रिजर्व बैंक में काम करते थे. बता दें सिद्धार्थ शुक्ला ने जब मॉडलिंग की शुरुआत की थी उसी दौरान इनके पिता की फेफड़ों की बीमारी से मौत हो गई थी.

2. शुक्ला ने फेस्टा इटालियाना के हिस्से के रूप में अपनी मुंबई यात्रा पर इतालवी फुटबॉल क्लब, एसी मिलान की अंडर -19 टीम के खिलाफ खेला था. इंटीरियर डिजाइनींग में ग्रेजुएट की डिग्री पूरी करने के बाद, शुक्ला ने कुछ वर्षों तक एक इंटीरियर डिजाइनिंग फर्म में काम भी किया था. 2004 में शुक्ला ग्लैडरैग्स मैनहंट और मेगामॉडल प्रतियोगिता में उपविजेता भी रहे थे.

3. सिद्धार्थ को ‘बालिका वधू’ सीरियल में शिव का किरदार निभाने के बाद लोकप्रियता मिली थी और उन्होंने इस शो के लिए कई अवार्ड्स भी जीते थे. 2014 में, शुक्ला ने रोमांटिक कॉमेडी हम्प्टी शर्मा की दुल्हनिया में एक एनआरआई डॉक्टर अंगद बेदी की भूमिका निभाई थी. इस फिल्म ने उन्हें 2015 के स्टारडस्ट अवार्ड्स में ‘ब्रेकथ्रू सपोर्टिंग परफॉर्मेंस (पुरुष)’ के लिए एक अवार्ड दिलाया था.

4. सिद्धार्थ की दो बड़ी बहनें हैं. शुक्ला ने सेंट जेवियर्स हाई स्कूल, फोर्ट, मुंबई में पढ़ाई की और रचना संसद स्कूल ऑफ़ इंटीरियर डिज़ाइनींग से इंटीरियर डिज़ाइनींग में ग्रेजुएट की डिग्री प्राप्त की. शुक्ला ने खुद को एक बहुत ही एथलेटिक बच्चे के रूप में तैयार किया था और उन्होंने टेनिस और फुटबॉल में अपने स्कूल का प्रतिनिधित्व किया भी किया था.

5. बता दें, सिद्धार्थ शुक्ला बिग बॉस 13 में भी अपना जलवा दिखा चुके थे और वहीं बिग बॉस 13 में ही इनकी मुलाकात शहनाज गिल से हुई थी जिनके रिलेशनशिप की खबरें हमेशा ही आती रहती थीं और वह अंतिम संस्कार के समय भी मौजूद रही थीं.

Check Also

مرغیوں کو دل کا دورہ پڑا‘، مالک نے باراتیوں پر مقدمہ کردیا۔ انوکھا کیس، آخر کیوں جانیے

بھارتی ریاست اڑیسہ میں باراتیوں کی جانب سے تیز میوزک اور ڈھول باجے کے باعث …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *